कोरोना टीका लगाने खेतोें तक पहुंच रहे हेल्थ वर्कर : बस्तर में 586 सेंटर्स पर वैक्सीनेशन, घर और बाजार में भी लगाया जा रहा टीका, Health workers reaching the fields to get corona vaccine


covid vaccine:
छत्तीसगढ़ के बस्तर जिले में बुधवार को एक लाख लोगों को कोरोना की वैक्सीन लगाने स्वास्थ्य अमला जुटा हुआ है। वैक्सीन लगाने सुबह से ही गांव से लेकर शहर और बाजार से लेकर घर तक स्वास्थकर्मी पहुंच रहे हैं। साथ ही बस्तर जिले में कुल 586 वैक्सीनेशन सेंटर बनाए गए हैं, जहां आज सुबह से ही स्वास्थ्य कर्मी लोगों का टीकाकरण करने जुटे हुए हैं। जिला प्रशासन की माने तो वैक्सीन लगाने लोगों में भी उत्साह देखने को मिल रहा है। 3 अगस्त की शाम तक एक लाख लोगों को कोरोना का टीका लगाने का लक्ष्य रखा गया है।


इसे भी पढ़े: आइये जानते है बिलासपुर के आसपास पिकनिक बनाने या घुमने लायक जगहों के बारे में...

स्वास्थ विभाग के अफसरों ने बताया कि, 18 साल से अधिक उम्र के ऐसे समस्त नागरिक जिन्होंने कोरोना वैक्सीन की दूसरी डोज उपरांत 6 माह की अवधि पूर्ण कर ली है, वे नागरिक कोविड वैक्सीन की प्रिकॉशन डोज के लिए पात्र होंगे। स्वास्थ विभाग ने 18 साल से अधिक उम्र के सभी लोगों से कोरोना की वैक्सीन लगवाने अपील की है। अधिकारियों ने कहा कि, कोविड वैक्सीनेशन की इस मुहिम में लोग बढ़ चढ़ कर हिस्सा लें। साथ ही बीमारी से खुद को और अपने परिवार को बचाएं।
सड़क किनारे बैठ कोरोना की वैक्सीन लगवाते ग्रामीण

कलेक्टर ने लिया टीकाकरण केंद्र का जायजा: कलेक्टर चंदन कुमार जिले के आड़ावाल, बाबू सेमरा, गरावंड कला, तुरेनार स्थित टीकाकरण केंद्र पहुंचे। उन्होंने यहां व्यवस्थाओं का जायजा लेने के साथ ही टीकाकरण दल तथा ग्रामीणों से बातचीत की। उन्होंने कोरोना से सुरक्षा के लिए टीकाकरण को आवश्यक बताते हुए अन्य ग्रामीणों को भी प्रेरित करने की अपील की। कलेक्टर ने टीकाकरण के प्रति लोगों को जागरूक भी किया।
खेतों में काम कर रहे किसानों को भी लगाया गया टीका

इसलिए मनाया जा रहा महोत्सव: बस्तर में अच्छी बारिश के साथ खेती-किसानी का काम जोरों पर है। बस्तर जिला प्रशासन ने कोरोना से सुरक्षा के लिए टीकाकरण अभियान चलाया जा रहा है। खेतों में ग्रामीणों की मौजूदगी को देखते हुए स्वास्थ्यकर्मी टीका लगाने के लिए सीधे खेतों तक भी पहुंच रहे हैं। इस दौरान रास्ते में, खेतों की ओर जाने वाले ग्रामीणों को भी टीका लगाया जा रहा है। उनसे जानकारी भी एकत्रित की जा रही है। हालांकि अब तक कितने लोगों को टीका लगाया गया है विभाग ने इस संबंध में जानकारी नहीं दी है। अधिकारियों ने कहा कि सारे केंद्रों से आंकड़ा मंगवाया गया है। इसके बाद ही जानकारी दे पाएंगे।

जाने कुछ अनोखी बाते: चंडी माता मंदिर जिला महासमुंद, विकासखंड बागबाहरा के घुंचपाली गाँव में स्थित है। जहाँ सिर्फ तांत्रिक और अघोरियों का बस आना-जाना हुआ करता था

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ