छत्तीसगढ़ में पकडे गए डेढ़ करोड़ की चांदी : 252 किलो ओडिशा से रायपुर लेकर आ रहे थे 2 युवक, बॉर्डर पर दबोचा, कैश भी जब्त, Silver worth 1.5 crores caught in Chhattisgarh


Mahasmund Chhattisgarh:
महासमुंद जिले की पुलिस ने डेढ़ करोड रुपए की चांदी जब्त की है। इसे 2 युवक लग्जरी कार में रखकर ओडिशा की तरफ से छत्तीसगढ की राजधानी रायपुर लेकर आ रहे थे। चेकिंग के दौरान पुलिस ने इन्हें पकड़ लिया है। आरोपियों से 251 किलो 900 ग्राम चांदी की ज्वेलरी जब्त की गई है। इसके अलावा इनसे कैश भी बरामद किया गया है। मामला सिंघोडा थाना क्षेत्र का है।


ओडिशा बॉर्डर पर रेहटीखोल चेक पोस्ट के पास बुधवार को पुलिस की एक टीम को चेकिंग के लिए तैनात किया गया था। पुलिस यहां आने-जाने वाले लोगों की जांच कर रही थी। इसी दौरान बरगढ़ की तरफ से एक सफेद रंग की डस्टर आ रही थी। इसे ही पुलिस ने जांच के लिए रोक लिया था।

इसे भी पढ़े: आइये जानते है बिलासपुर के आसपास पिकनिक बनाने या घुमने लायक जगहों के बारे में...

पुलिस ने जब गाड़ी को रुकवाया तो उसमें 2 युवक मिले। पुलिस ने इनसे पूछताछ की तो एक ने अपना नाम रूचि पटेल और दूसरे ने अपना नाम शिव कुमार गंधर्व बताया है। दोनों रायपुर के रहने वाले हैं। इसके बाद पुलिस ने इनकी कार की तलाश ली। कार की तलाश करने पर ही पुलिस हैरान रह गई। पुलिस को कार की डिग्गी से 20 बैग मिले और एक अटैची मिली।

इसे भी पढ़े: क्या आप जाने है, छत्तीसगढ़ में स्थित हैं पुरे एशिया का दूसरा सबसे बड़ा चर्च

पुलिस ने उसे बैग और अटैची खोलकर देखा तो उसमें चांदी की बहुत सारी ज्वेलरी थी। कई प्रकार के ब्रेसलेट, कंगन और कई तरह के चांदी के जेवर थे। इस पर पुलिस ने उनसे पूछा कि ये जेवर कहां ले जा रहे हो तो उन्होंने बताया कि रायपुर के एक ज्वेलरी शॉप के लिए ले जा रहे हैं। इसके बाद पुलिस ने इनसे दस्तावेज मांगे। जो वे प्रस्तुत नहीं कर सके। जिसके बाद इनसे जेवर जब्त किए गए हैं। जब्त किए गए जेवर की कीमत एक करोड़ 51 लाख रुपए है। इसके अलावा 72 हजार कैश और कार को जब्त कर लिया गया है। पूरे मामले का खुलासा एसपी भोजराम पटेल ने खुद किया है।

जाने कुछ अनोखी बाते: चंडी माता मंदिर जिला महासमुंद, विकासखंड बागबाहरा के घुंचपाली गाँव में स्थित है। जहाँ सिर्फ तांत्रिक और अघोरियों का बस आना-जाना हुआ करता था

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ